Home Blog

Independence Day 2019: देशभक्ति के ये गाने आपके अंदर भर देंगे जोश

0

स्वतंत्रता दिवस, हर साल 15 अगस्त को पूरे भारत में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है। भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था। इस दिन को सभी लोग अपने तरीके से सेलिब्रेट करते हैं। बॉलीवुड ने भी इस आजादी के मायने समझाने के लिए कई देशभक्ति फिल्में पेश की हैं। आजादी और देशभक्ति पर कई ऐसे गाने हैं जिसे सुनने के बाद से देशभक्ति की भावना जाग जाती है। तो चलिए आज हम आपको बॉलीवुड के ऐसे गानों से रुबरु कराते हैं जिन्हें आप स्वतंत्रता दिवस पर गुनगुना सकते हैं।

तेरी मिट्टी

अक्षय कुमार की फिल्म ‘केसरी’ का गाना ‘तेरी मिट्टी’ को सुनकर एक अलग जोश जगता है। इस गाने में एक सिपाही की फीलिंग के बारे में बताया गया है कि कैसे वो देश के लिए सब छोड़ देता है।

‘ऐ वतन मेरे वतन’

मेघना गुलजार की फिल्म ‘राजी’ का गाना ‘ऐ वतन मेरे वतन’ हमें देश और आजाद होने के मायने बताता है। इस गाने में आलिया भट्ट यह गाना गाती नजर आ रही हैं।

गोल्ड लाएंगे गोल्ड

अक्षय कुमार की फिल्म ‘गोल्ड’ का टाइटल सॉन्ग बहुत ही मस्त भरा और जोश से भरपूर है। इस गाने को पॉपुलर सिंगर दिलेर मेहंदी ने आवाज दी है। वहीं जावेद अख्तर ने इसे लिखा है और सचिन-जिगर ने कम्पोज किया है।

‘वंदे मातरम’

ए. आर रहमान की एल्बम ‘वंदे मातरम’ का गाना ‘मां तुझे सलाम’ हर तरह आपको देशभक्ति के भाव में बहा ले जाएगा।

‘रंग दे बसंती’

फिल्म ‘रंग दे बसंती (2006)’ का टाइटल सॉन्ग ‘रंग दे बसंती’ सॉन्ग सुनकर हर कोई मस्त हो जाता है। इस गाने को दिलेर मेहंदी ने गाया था।

 

चक दे इंडिया

शाहरुख खान स्टारर ‘चक दे इंडिया’ का टाइटल सॉन्ग चंक दे इंडिया ने खूब धमाल मचाया था। इस गाने को सुनकर आपके अंदर जोश जग जाएगा।

सिंचाई विभाग के टेंडर में बड़ा घालमेल, सीएम योगी तक पहुंचा मामला

0

गाजियाबाद :- मुरादनगर गंगनहर के किनारे सिंचाई विभाग की लीज पर दी जाने वाली जमीन के टेंडर में विभागीय अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों के घालमेल का मामला सामने आया है। यह जमीन विभाग की ओर से प्रत्येक तीसरे वर्ष लीज पर दी जाती है। लीज पर आवंटन करने के मामले में बड़ा खेल कर दिया है। नियमानुसार तीन लोगों के टेंडर आने के बाद ही टेंडर प्रक्रिया को जारी किया जा सकता है, लेकिन सेटिंग के तहत निविदा एक ही व्यक्ति को खोल दी गयी है। मामला अब सिंचाई मंत्री के समक्ष पहुंच गया है, उन्होंने विभागीय चीफ इंजीनियर से लेकर जिला प्रशासन से रिपोर्ट तलब की है। विभाग के इस कारनामे पर अधिकारियों में अब खलबली मच गयी है।

जानकारी के अनुसार गंगनहर पर लीज पर दी जाने वाली 500 मीटर जमीन 1.19 करोड़ में दी गयी थी। विभागीय सूत्रों की मानें तो इस प्रकिया में इस बार नियम विरुद्ध यह हुआ कि टेंडर को लेकर 11 निविदा लगी, जबकि सिक्योरिटी तीन लोगों की जमा थी, लेकिन सेटिंग गेटिंग कर निविदा एक ही व्यक्ति की ही खोल दी गई है। जब यह पूरा मामला चीफ इंजीनियर पीसी शर्मा के संज्ञान में आया तो उन्होंने आमंत्रण को बीच में रोककर इसकी जांच आख्या रिपोर्ट मांग ली है। चीफ इंजीनियर भी मानते हैं कि इस टेंडर में अनियमितता बरती गई है, जिसके चलते जांच आख्या मांगी गई है, जांच रिपोर्ट आने के बाद ही टेंडर प्रक्रिया को रद्द कर फिर इसका टेंडर निकाला जाएगा। इसमें टेंडर लेने वाले भागीदारों से सिक्योरिटी जमा कराई जाएगी।

मंत्री ने मांगी रिपोर्ट

सिंचाई विभाग मध्य गंगनहर की ओर से हर तीसरे वर्ष मुरादनगर स्थित गंगनहर होटल की जगह लीज पर दी जाती है। इस बार मध्य गंगा अभियंता आशुतोष सारस्वत ने नियमों के विपरीत टेंडर प्रक्रिया करा दी। प्रदेश के सिंचाई मंत्री धर्मपाल के संज्ञान में यह मामला आ गया है। उन्होंने भी विभाग के चीफ इंजीनियर से लेकर जिला प्रशासन से इसकी रिपोर्ट मांगी है। यही नहीं मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी इसकी शिकायत होने के बाद जांच पड़ताल आरंभ हो गई है।

यह है नियम

नियम कहता है कि टेंडर होने चाहिए थे परंतु टेंडर एक ही पड़ा वही खोल दिया गया। जमीन की लीज ऑक्शन होती है बल्कि अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों की ओर से घालमेल कर दिया गया। यही नहीं टेंडर वाले दिन कंप्यूटर पर सिंचाई विभाग की दो साइट खोल कर गुमराह किया गया। एक साईट पर 1.1 9 करोड़ का टेंडर छोड़ा गया है जिसके खिलाफ सभा राठी ग्रुप ने 1.14 करोड़ रुपए का टेंडर लेने के लिए चीफ इंजीनियर को अर्जी दी है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने गन्ना किसानों को दी बड़ी राहत

0

प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों को बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट ने बुधवार को सामान्य समादेश जारी करते हुए राज्य के मुख्य सचिव और गन्ना आयुक्त, उत्तर प्रदेश को एक माह में सभी किसानों के बकाये का भुगतान 15 फीसदी ब्याज के सहित भुगतान कराने का निर्देश दिया है। यह आदेश न्यायमूर्ति शशिकांत गुप्ता और न्यायमूर्ति एसएस शमशेरी की खंडपीठ ने किसान जयपाल सिंह व अन्य की याचिका पर दिया है।

हाईकोर्ट ने कहा है कि कंट्रोल ऑर्डर के तहत गन्ना खरीद से 14 दिन के भीतर गन्ना मूल्य का भुगतान किए जाने का नियम है। यदि 14 दिन में भुगतान नहीं होता तो उस पर 15 फीसदी ब्याज देना होगा। इस सख्त नियम के बावजूद किसानों को गन्ना मूल्य के लिए कोर्ट के चक्कर लगाने पड़ रहे है।

कोर्ट ने अधिकारियों के रवैये की आलोचना की है। कोर्ट ने कहा है कि जिन अधिकारियों पर गन्ना भुगतान की जिम्मेदारी है, उन्हें सोते रहने की अनुमति नहीं दी जा सकती। गन्ना मूल्य का भुगतान न करना न केवल किसानों का उत्पीड़न है, बल्कि उन्हें अनावश्यक मुकदमेबाजी में धकेलना है।

हाईकोर्ट ने दी चेतावनी

हाईकोर्ट ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि आदेश का पालन नहीं किया जाता तो इसे जवाबदेह अधिकारी की कोर्ट के प्रति जवाबदेही होगी। कोर्ट ने महानिबंधक को आदेश की प्रति मुख्य सचिव और गन्ना आयुक्त लखनऊ को उपलब्ध कराने का आदेश दिया है।

बलरामपुर श्रीदत्तगंज सेवा सप्ताह का हुआ उदघाट्न

0

बलरामपुर श्रीदत्तगंज विकास खण्ड परिसर में सेवा सप्ताह के पांचवे दिन वृद्धा पेंशन,विधवा पेंशन,दिव्यांक पेंशन योजना का आयोजन किया गया शिविर का उद्घाटन विधायक सदर पलटू राम ने फीता काटकर शुभारम्भ किया
विधायक ने कहा कि सरकार सभी निराश्रितों वाद दिव्यांग जनों को सरकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है शिविर में दिव्यांग जनों का परीक्षण कर उन्हें प्रमाण पत्र भी दिया गया वीडियो अशोक कुमार दुबे ने काउंटर पर जाकर कर्मचारियों से आवेदन ले लेने व उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया 13 दिव्यांगों को प्रमाण पत्र वितरित किया गया शिविर में विधवा पेंशन के लिए 72 वृद्धा पेंशन के लिए 404 वह दिव्यांग के 8 आवेदन प्राप्त हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी बद्री प्रसाद,एपीओ विकास कुमार,एपीओ रामबाबू पांडे,संतोष कुमार मिश्रा भाजपा मण्डल अध्यक्ष रणविजय सिंह,युवा मोर्चा जिलाउपाध्यक्ष आकाश पाण्डेय,आशु मिश्रा,सुनील कुमार चौहान ,विनय जायसवाल अनमोल,जेतेन्द्र वन बाबा व समस्त कार्यकर्ताओ के साथ शामिल हुए

साबिर अली 

गोंडा वभनजोत प्रेरणा ऐप के विरोध में ज्ञापन देते हुए पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ बभनजोत के शिक्षक

0

बभनजोत (गोन्डा) ब्लॉक संसाधन केंद्र रसूलपुर खान गिन्नी नगर में परिषदीय स्कूलों में लागू होने वाले प्रेरणा एप के विरोध में पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ बभनजोत के ब्लॉक अध्यक्ष केके यादव के नेतृत्व में खंड शिक्षा अधिकारी अर्जुन प्रसाद वर्मा को ज्ञापन सौंपा गया। शिक्षक संगठन इस एप का जबरदस्त विरोध कर रहे हैं। थमने का नाम नहीं ले रहा है। पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष केके यादव व मंत्री विमलेश बहादुर सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार को कुछ अधिकारी गुमराह करने का काम कर रहे हैं। और वाहवाही लूटने के चक्कर में शिक्षकों की निष्ठा पर सवाल खड़ा कर रहे हैं।

www.upnewz.in

अपने दायित्वों का निर्वाहन करना शिक्षक अच्छी तरह जानते हैं। उन्हें किसी प्रेरणा एप की आवश्यकता नहीं है। प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष रामविलास वर्मा ने कहा कि प्रेरणा एप एक तरह का पोर्टल है। जिस पर शिक्षकों के आधार से लेकर उसका बैंक खाता नंबर व मानव संपदा प्रपत्र जिसमें शिक्षकों की समस्त निजी जानकारियां मौजूद रहती हैं। वह सार्वजनिक हो जाएगा। यह डाटा कब लीक हो जाए इसकी कोई गारंटी नहीं है। श्री वर्मा शिक्षकों की निजता का हनन बताते हुए कहा कि शिक्षक प्रेरणा ऐप को किसी भी कीमत पर लागू नहीं होने देंगे। इस मौके पर जावेद कमर(ब्लॉक अध्यक्ष)अब्दुल रकीब, रमेश वर्मा, अबू सुफियान, मसीहुद्दीन बेग, बसीर, कमरुद्दीन, उमेश चंद्र श्रीवास्तव, राम धीरज, संजय वर्मा, इंद्रदेव यादव,कलाम सहित दर्जनों शिक्षक मौजूद रहे।

महबूब अहमद

तुलसीपुर/बलरामपुर चेयर पर्सन कहकशां फ़िरोज़ ने वार्डों में गन्दगी को लेकर सफाई नायकों को लगाई कड़ी फटकार नगर के सभी वार्डों में साफ सफाई नज़र आनी चाहिए का दिया सख्त निर्देश।

0

तुलसीपुर आदर्श नगर पंचायत अध्यक्ष कहकशां फ़िरोज़ से वार्ड नं 15, 12 की कुछ महिलाओं ने चेयर पर्सन से शिकायत करते हुए कहा कि सफाई कर्मी हमारे वार्ड में सफाई नहीं करने आते हैं जिसका त्वरित संज्ञान लेते हुए चेयरपर्सन कहकशां फ़िरोज़ ने सफाई कर्मियों को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि नगर के प्रत्येक वार्डों में प्रतिदिन सफाई होनी चाहिए।नगर के वार्डों में कूड़ा कचरा नज़र नहीं आना चाहिए।साफ सफाई में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

चेयर पर्सन ने कहा कि सफाई नायकों की टीम में 10-10 सफाई नायकों की टोली बनाकर नगर के प्रत्येक वार्डों में सफाई करने का कड़ा निर्देश दिया तो वहीं सफाई नायकों का एक उड़न दस्ता भी आज से वार्डों का निरीक्षण कर साफ सफाई कराने का कार्य करेंगे का दिशा निर्देश दिया।

नगर अध्यक्ष कहकशां फ़िरोज़ के त्वरित संज्ञान व कड़ी फटकार से सफाई नायकों ने आनन फानन में वार्ड नंम्बर 15,एंव 12 की साफ सफाई की।

साबिर अली 

गाज़ियाबाद – दो भैसों की संदिग्ध परिस्तिथियों में मौत

0

विजयनगर – सुंदर पुरी मंदिर में दो भेसो की संदिग्ध परिस्तिथियों में मौत,,वही पीड़ित रामचन्द्र के मुताबिक भैसो की मौत जहरीला पदार्थ खिलाने से हुई है,,पीड़ित ने भैसो को नशीला पदार्थ खिलाने का आरोप सचिन नामक व्यक्ति पर लगाया है,,ओर पुलिस को सचिन के खिलाप लिखित तहरीर दी है।।

विजयनगर थाना क्षेत्र का मामला

मोबाइल चोरी के जुर्म में लल्ला सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह फरार घोषित

0

शाहजहांपुर के अल्लाहगंज थाना क्षेत्र के मोहल्ला बगिया प्रथम निवासी लल्ला सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह को पुलिस ने फरार घोषित कर दिया है पुलिस ने अलाउंस करते हुए 26 सितंबर तक पुलिस या न्यायालय में आत्मसमर्पण ना होने पर चल अचल संपत्ति को कुर्क करने का अलाउंस किया है,,, बताया जा रहा है कि लल्ला सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह कई मामलों में फरार है पुलिस काफी दिनों से लल्ला सिंह की तलाश में लगी है लेकिन लल्ला सिंह का कोई भी अता पता नहीं लग रहा है इसकी वजह से पुलिस को लल्ला सिंह को फरार घोषित करना पड़ा मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने अलाउंस करते हुए 26 सितंबर तक का लल्ला सिंह को आत्मसमर्पण के लिए समय दिया है 26 सितंबर तक अगर लल्ला सिंह अपने आप को पुलिस के हवाले या न्यायालय में समर्पण नहीं करते हैं तो लल्ला सिंह के नाम चल अचल संपत्ति सभी कुर्क कर दी जाएगी l ज्ञात हो कि लल्ला सिंह ने कुछ माह पूर्व बगिया प्रथम थाने के सामने मात्र 70 मीटर की दूरी पर संदीप मोबाइल शॉप का पीछे से नकाब लगाकर कई मोबाइल भारी मात्रा में अन्य बाकी सामान गायब कर दिया था इसके बाद पीड़ित ने थाना पुलिस में तहरीर दी थी जिसमें पुलिस ने जांच कर लल्ला सिंह को नामजद करते एफआइआर आर दर्ज करके लल्ला सिंह की तलाश शुरू की l लेकिन लल्ला सिंह अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर रहे,l जिसके बाद पुलिस को लल्ला सिंह को फरार घोषित करना पड़ा l

लल्ला सिंह के नाम नहीं है एक भी कौड़ी

मिली जानकारी के अनुसार लल्ला सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह निवासी बगिया प्रथम अल्लाहगंज जिनको को पुलिस ने फरार घोषित किया है और 26 सितंबर की तारीख तक समर्पण करने का समय दिया है समर्पण न करने की दशा में कुर्की करने का भी फरमान सुना दिया है लेकिन पुलिस कुर्की करेगी तो क्या करेगी बताया जा रहा है कि लल्ला सिंह के नाम जो कुछ भी था लल्ला सिंह ने पहले ही सब कुछ बेच खा लिया है वर्तमान समय में लल्ला सिंह के नाम दो कौड़ी भी नहीं है जो कुछ भी है उनके भाइयों के नाम है अब देखना यह होगा कि अल्लाहगंज पुलिस कुर्की करती है तो क्या करती है l

वाराणसी के DM फ़र्ज निभाते हुए घायल हुए

0

IAS सुरेंद्र सिंह DM वाराणसी के साथ हुआ बड़ा हादसा

बाढ़ इलाके में राहत सामग्री खुद बाटने निकले थे DM

छत की दीवाल गिरने से घायल हुए DM बनारस

IAS सुरेंद्र सिंह को लगी है चोट, चोट और दर्ज भूल बचाव में जुटे

पीएम के संसदीय इलाके के कोनिया मोहल्ले में बाट रहे थे राहत सामग्री

वाराणसी DM सुरेंद्र सिहं के हौसले को सलाम

एक बार फिर कांग्रेस के जिम्मेदार नेता दिग्विजय सिंह पर केस दर्ज, धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप

0

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद  दिग्विजय सिंह पर धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज किया गया है। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर विधायक के बेटे दिवेन्दु मणि त्रिपाठी की शिकायत पर यह मुकदमा दर्ज किया गया।

दिवेन्दु ने 17 सितंबर को एक टीवी चैनेल के माध्यम से धार्मिक भावनाओं को भाड़काने का आरोप लगाते हुए कसया थाने में तहरीर दी है। उन्होंने अपनी तहरीर में कहा है कि 17 सितंबर की शाम को एक न्यूज चैनल पर दिग्विजय सिंह ने बयान दिया कि लोग भगवा वस्त्र पहन कर मंदिरों में बलात्कार कर रहे हैं।

इससे पहले 01 सितंबर को भी उन्होंने बयान दिया था कि आरएसएस व हिन्दू संगठनों के लोग आईएसआई से पैसा लेते हैं व मुसलमानों से ज्यादा आंतकवादी घटनाओं में लिप्त हैं। साथ ही उन्होंने सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालयों को आंतकी गतिविधियों का केंद्र बताया था।

दिवेन्दु ने शिकायत की कि ऐसे बयानों से सामाजिक व साम्प्रादायिक सौहार्द बिगड़ रहा है। पूरे देश में धर्म के आधार पर सोची समझी रणनीति के तहत घृणा व वैमनस्य फैलाने की कोशिश की जा रही है।

टोमेटो सॉस नहीं, ‘लाल जहर’, ठेले से रेस्त्रां तक धड़ल्ले से हो रही सप्लाई

0

चाऊमीन, पेटीज और अन्य फास्ट फूड के साथ जिस टोमेटो सॉस को हम खा रहे हैं, वह जहरीली है। यह सॉस कपड़े की छपाई के रंग, सिंथेटिक सिरका और सड़ी सब्जियों से बनती है। इसमें रंग के लिए खतरनाक केमिकल का प्रयोग किया जा रहा है।

सड़क किनारे लगने वाले ठेले से लेकर ढाबे और रेस्टोरेंट तक में इसकी धड़ल्ले से सप्लाई हो रही है। आगे की सच्चाई जानकार आपको यकीन हो जाएगा कि आखिर आपकी सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ये असली दिखने वाली नकली सॉस: –रिपोर्ट्स के मुताबिक  लिसाड़ी गेट के हुमायूं नगर स्थित एक मकान था । मकान बाहर से बंद था। किसी तरह गेट खुलवाया गया तो अंदर का नजारा हैरान कर देने वाला था। बड़े-बड़े बर्तनों में सॉस बनाई जा रही थी। केमिकल और सड़ी हुई सब्जियों से बदबू आ रही थी। आसपास इतनी गंदगी थी कि वहां खड़ा होना तक मुश्किल हो रहा था।

फैक्टरी में काम कर रहे कर्मचारी ने बताया कि प्रतिदिन 300 से 400 लीटर सॉस बनाई जाती है और शहर के हर हिस्से में सप्लाई की जाती है। यह सॉस 10 से 12 दिन में सड़ जाती है। इसीलिए सॉस बनाकर जल्दी से सप्लाई कर दी जाती है। दुकानों पर भी तुरंत खपा दी जाती है।

न लाइसेंस, न कोई मानक

 

MOST POPULAR

POPULAR