देखिये आज का पञ्चाङ्ग दिनांक 09अक्टूबर 2019.

0
37

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 09 अक्टूबर 2019*
⛅ *दिन – बुधवार*
⛅ *विक्रम संवत – 2076 (गुजरात. 2075)*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन – दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु – शरद*
⛅ *मास – अश्विन*
⛅ *पक्ष – शुक्ल*
⛅ *तिथि – एकादशी शाम 05:19 तक तत्पश्चात द्वादशी*
⛅ *नक्षत्र – धनिष्ठा रात्रि 11:13 तक तत्पश्चात शतभिषा*
⛅ *योग – शूल 10 अक्टूबर रात्रि 01:43 तक तत्पश्चात गण्ड*
⛅ *राहुकाल – दोपहर 12:14 से दोपहर 01:41 तक*
⛅ *सूर्योदय – 06:33*
⛅ *सूर्यास्त – 18:18*
⛅ *दिशाशूल – उत्तर दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण – पापांकुशा एकादशी*
💥 *विशेष – हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।*
💥 *आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l*
💥 *एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।*
💥 *एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है | एकादशी को शिम्बी (सेम) ना खाएं अन्यथा पुत्र का नाश होता है।*
💥 *जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।*
🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

🌷 *पापांकुशा एकादशी* 🌷
➡ *08 अक्टूबर 2019 मंगलवार को दोपहर 02:51 से 09 अक्टूबर 2019 बुधवार को शाम 05:19 तक एकादशी है ।*
💥 *विशेष ~ 09 अक्टूबर 2019 बुधवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।*
🙏🏻 *पापांकुशा एकादशी उपवास करने से कभी यम-यातना नहीं प्राप्त होती | यह पापों को हरनेवाला, स्वर्ग, मोक्ष, आरोग्य, सुंदर स्त्री, धन एवं मित्र देनेवाला व्रत है | इसका उपवास और रात्रि में जागरण माता, पिता व स्त्री के पक्ष की दस – दस पीढ़ियों का उद्धार कर देता है |*
🙏🏻 *स्रोत – ऋषिप्रसाद – सितम्बर २०१६ से*
🌞 *~ हिन्दू पंचाग ~* 🌞

🌷 *नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए* 🌷
🌙 *दशहरे से शरद पूनम तक चन्द्रमा की चाँदनी में विशेष हितकारी रस, हितकारी किरणें होती हैं । इन दिनों चन्द्रमा की चाँदनी का लाभ उठाना, जिससे वर्षभर आप स्वस्थ और प्रसन्न रहें । नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए दशहरे से शरद पूर्णिमा तक प्रतिदिन रात्रि में 15 से 20 मिनट तक चन्द्रमा के ऊपर त्राटक (पलकें झपकाये बिना एकटक देखना) करें ।*
🙏🏻 *पूज्य बापूजी*

📖 *हिन्दू पंचांग संपादक ~ अंजनी निलेश ठक्कर*
📒 *हिन्दू पंचांग प्रकाशित स्थल ~ सुरत शहर (गुजरात)*
🌞 *~ हिन्दू पंचाग ~* 🌞
🙏🍀🌻🌹🌸💐🍁🌷🌺🙏

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of