Throwback: बचपन में बेहद खराब थी किशोर कुमार की आवाज, एक हादसे ने बना दिया सुरों का सरताज

0
55

मशहूर सिंगर और एक्टर किशोर कुमार की आवाज के जादू को सभी जानते हैं। किशोर जिस गाने को अपनी आवाज देते थे वो यादगार बन जाता था। कहा जाता है  कि बचपन में किशोर की आवाज काफी खराब थी और उनका गला काफी बैठा हुआ था।

मुख्य बातें

  • किशोर कुमार का असली नाम आभास कुमार गांगुली था
  • किशोर कुमार ने 4 शादी की थी
  • एक चमत्कार ने बना दिया किशोर कुमार को सुरों का सरताज

बॉल‍ीवुड के मशहूर गायक किशोर कुमार का जन्म 4 अगस्त, 1929 को छोटे से शहर खंडवा मध्यप्रदेश में हुआ था। बॉल‍ीवुड के मशहूर गायकों में शुमार किशोर एक बंगाली परिवार में जन्मे थे। अपने दौर के सबसे शानदार गायकों में से एक किशोर का असली नाम आभास कुमार गांगुली था। किशोर कुमार के पिता एक जाने माने वकील थे। किशोर कुमार 4 भाई बहनों में चौथे नम्बर पर थे।

एवरग्रीन सिंगर किशोर के गाए गानें आज भी उतने नए हैं जितने दशकों पहले हुआ करते थे। यही नहीं, इस दौर में भी किशोर के गानों का रीमेक किया जाता है। किशोर कुमार के जीवन में 4 नंबर का बहुत महत्व रहा है। किशोर का जन्म 4 अगस्त को हुआ। किशोर अपने 4 भाई बहनों में चौथे नम्बर पर थे। इसके अलावा किशोर ने शादी भी 4 की थी।

 

किशोर दा ने एक्ट्रेस रूमा गुहा ठाकुरता से पहली शादी 1951 में की थी। रूमा से तलाक के बाद किशोर कुमार ने उस दौर की सबसे खूबसूरत एक्ट्रेस मधुबाला से शादी की। ये शादी नौ साल तक चली। मधुबाला के दिल में छेद था और 36 साल की उम्र में 1969 को उनका निधन हो गया। मधुबाला के निधन के बाद किशोर कुमार ने तीसरी शादी शम्मी कपूर की पत्नी की भतीजी योगिता बाली से की। इनकी शादी 1976 में हुई थी और 1978 में दोनों का तलाक हो गया। योगिता से तलाक के बाद 1980 में किशोर ने लीना चंद्रावरकर से शादी कर ली। 1987 में किशोर दा के निधन तक किशोर का ये रिश्ता अटूट रहा।

 

किशोर के जिंदगी से जुड़े तमाम किस्सों में एक किस्सा ये भी है कि आवाज के जादूगर किशोर की आवाज बचपन से इतनी बेहतरीन नहीं थी। रिपोर्ट के मुताबिक बचपन में किशोर की आवाज काफी बैठी हुई थी। कहा जाता है कि उस दौरान अगर कोई भी किशोर की आवाज सुनता तो ये नहीं कह सकता था कि ये बच्चा आगे चलकर सुरों का बेताज बादशाह बनेगा।

एक दिन जब किशोर दा कि मां रसोई में सब्जी कांट रही थी तो किशोर भागकर किचन में पहुंचे इस दौरान वहां रखी दराती पर उनका पैर पड़ गया जिसकी वजह से उनके पैर की एक उंगली बुरी तरह कट गई। इस हादसे के बाद किशोर दर्द के मारे जोर-जोर से रोने लगे जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने किशोर की उंगली तो ठीक कर दी लेकिन कई दिनों तक उनकी उंगली में दर्द रहा जिसके चलते वो काफी रोते थे। उनके इस रोने की वजह से उनकी आवाज खुल गई और पाक हो गई।

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of