NDvsWI: एक बदलाव के साथ तीसरे वनडे में कुछ ऐसा हो सकता है भारत का प्लेइंगXI

0
14

India vs West Indies: टीमें जीत दर्ज करने वाली प्लेइंग इलेवन में बदलाव को प्राथमिकता नहीं देती, लेकिन विराट कोहली अंतिम वनडे में शमी को आराम देकर नवदीप सैनी को मौका दे सकते हैं।

India vs West Indies 2019, 3rd ODI:  भारत बुधवार (14 अगस्त) को यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे और अंतिम वनडे मैच में एक और सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा। वनडे सीरीज के बाद दोनों टीमें एंटिगा के नार्थ साउंड में 22 अगस्त से दो मैचों की टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेंगी। पहला वनडे मैच जहां बारिश की वजह से रद्द हो गया था। वहीं, दूसरे वनडे मैच में भारत ने 59 रनों से जीत हासिल की थी।

दूसरे वनडे मैच में कप्तान विराट कोहली ने शानदार 120 रनों की पारी खेली थी। वहीं, श्रेयस अय्यर ने 71 रनों की पारी खेलकर भारतीय टीम में अपना दावा मजबूत कर लिया है। इस मैच में भुवनेश्वर कुमार ने अपनी शानदार गेंदबाजी से विंडीज के धाकड़ बल्लेबाजों को रोका। अब भारत तीसरा वनडे जीतकर टी-20 के बाद वनडे सीरीज पर भी अपना कब्जा जमाना चाहेगा।

टीमें जीत दर्ज करने वाली प्लेइंग इलेवन में बदलाव को प्राथमिकता नहीं देती, लेकिन विराट कोहली अंतिम वनडे में शमी को आराम देकर नवदीप सैनी को मौका दे सकते हैं। ऐसे में भारत की संभावित प्लेइंग कुछ तरह की हो सकती है।

रोहित शर्माः विश्व कप 2019 से रोहित लगातार शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। पहला वनडे बारिश की वजह से धुल जाने के कारण दूसरे वनडे में रोहित शर्मा बड़ी पारी नहीं खेल पाए। अब तीसरे वनडे में रोहित शर्मा की कोशिश बड़ी पारी खेलने की होगी।

शिखर धवनः भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन लगातार चार मैचों में विफल रहने के बाद बड़ी पारी खेलने के लिए बेताब होंगे। टी-20 सीरीज में 1, 23 और तीन रन की पारियां खेलने वाले धवन दूसरे वनडे इंटरनेशनल मैच में सिर्फ दो रन बना पाए थे, जिससे चोट के बाद उनकी वापसी अच्छी नहीं रही। धवन को अंदर आती गेंद पर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और उन्हें दो बार तेज गेंदबाज शेल्डन कोट्रेल ने आउट किया। धवन टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं हैं और ऐसे में वह अपने कैरेबियाई दौरे का अंत यादगार पारी खेलकर करना चाहेंगे।

विराट कोहलीः तीसरे टी-20 में शानदार अर्द्धशतक और दूसरे वनडे में शानदार 120 रनों की पारी खेलने वाले विराट कोहली तीसरे वनडे में भी अपनी फॉर्म जारी रखना चाहेंगे। इसके बाद टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज होगा और विराट अपनी इसी फॉर्म को टेस्ट में भी बनाए रखना चाहेंगे।

श्रेयस अय्यरः ऋषभ पंत की मानसिकता चिंता का विषय है क्योंकि उन्होंने कई मौकों पर अपना विकेट गंवाया है। कोई भी टीम इस महत्वपूर्ण स्थान पर धैर्यवान बल्लेबाज को उतारना चाहेगी और रविवार को खेली पारी से अय्यर ने अपना दावा मजबूत किया है।

ऋषभ पंतः भारतीय टीम में चौथे नंबर पर जगह पक्की करने को लेकर द्वंद्व चल रहा है और श्रेयस अय्यर ने दूसरे वनडे में शानदार पारी खेलकर ऋषभ पंत पर दबाव बढ़ा दिया है। पंत को टीम प्रबंधन विशेषकर कप्तान विराट कोहली का समर्थन हासिल है, लेकिन उनकी लगातार विफलता और दूसरे वनडे में अय्यर की 68 गेंद में 71 रन की पारी से चीजें बदल गई हैं।

केदार जाधवः केदार जाधव टीम इंडिया के एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनका पता ही नहीं चलता कि वह टीम में हैं या नहीं। विश्व कप में भी केदार कुछ खास नहीं कर पाए थे। वनडे सीरीज में उन्हें मौका दिया गया। दूसरे वनडे में 16 रन बनाकर रनआउट हुए थे। तीसरे वनडे में केदार जाधव अपनी बल्लेबाजी में सुधार करना चाहेंगे।

रविंद्र जडेजाः जडेजा को प्लेइंग इलेवन में रखना तय है। जाहिर है जडेजा मैदान पर ज्यादा प्रभावशाली गेंदबाज और फील्डर हैं। वह जरूरत पड़ने पर अच्छी बल्लबाजी भी कर लेते हैं। जडेजा की शानदार बल्लेबाजी का नजारा वर्ल्ड कप 2019 सेमीफाइनल में देखने को मिल चुका है।

भुवनेश्वर कुमारः भुवनेश्वर कुमार ने पिछले मैच में आठ ओवर में 31 रन देकर चार विकेट चटकाते हुए भारत के लिए शानदार प्रदर्शन किया था और यह तेज गेंदबाज अपने इस शानदार प्रदर्शन को दौरे के आगामी मैचों में दोहराना चाहेगा।

नवदीप सैनी: भुवनेश्वर के तेज गेंदबाजी जोड़ीदार मोहम्मद शमी (39 रन पर दो विकेट) चटकाए थे। वहीं, नवदीप सैनी ने टी-20 सीरीज में शानदार परफॉर्मेंस दिया था। ऐसे में विराट शमी को आराम देकर नवदीप सैनी को आजमा सकते हैं।

कुलदीप यादवः कुलदीप विश्व कप 2019 में अपनी प्रतिभा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्हें वापस फॉर्म में लौटने का अवसर दिया जा सकता है।

खलील अहमदः खलील भारत के तेज गेंदबाज हैं। उनके पास स्पीड और स्विंग दोनों हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में भी उनका खेलना तय माना जा रहा है।

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of