आतंकियों की कमर तोड़ेगा ये सॉफ्टवेयर, गतिविधियों की देगा सटीक जानकारी

0
230
Share the news

दिल्ली पुलिस ऑनलाइन और सोशल नेटवर्किंग साइट पर संदिग्ध आतंकी गतिविधियों के बारे में सटीक जानकारी हासिल करने के लिए ओपन सोर्स ऑफ इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करेगी।

इसके अलावा इर्मेंजग एंड रियलाइजेशन सॉफ्टवेयर की मदद से क्राइम सीन को समझने में मदद मिलेगी। दावा है कि दिल्ली पुलिस इन दोनों सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करने वाली देश की पहली पुलिस होगी।

संदिग्धों का नेटवर्क खंगालेंगे

ओपन सोर्स ऑफ इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर के जरिए सुरक्षा एजेंसियां आतंकी संगठनों और उनसे जुड़े लोगों के बारे में जानकारी एकत्र करती हैं। इस सॉफ्टवेयर के जरिए पुलिस संदिग्ध आतंकियों के नेटवर्क को खंगालती है।

दरअसल, जिस संगठन या व्यक्ति से जुड़ी जानकारी एकत्र करनी होती है, उससे जुड़े इंटरनेट डाटा जैसे ऑडियो, वीडियो, फोटो,  लिखित कंटेंट, ई-मेल, सोशल मीडिया नेटवर्क जैसे ट्विटर व फेसबुक अकाउंट, संगठन के वेब सर्वर और मेल सर्वर का विश्लेषण किया जाता है। इससे संदिग्धों की सूचनाएं बस एक क्लिक पर जुटाई जा सकती हैं।

सही विश्लेषण 

ओपन सोर्स ऑफ इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर न सिर्फ संदिग्धों की गतिविधियों से जुड़ीं सूचनाएं एकत्र करता है, बल्कि उनका विश्लेषण भी करता है।

रियलाइजेशन तकनीक 

मैनेजमेंट इर्मेंजग ऐंड रियलाइजेशन सॉफ्टवेयर से पुलिस घटना के बाद क्राइम सीन का रिक्रिएशन करती है। इसकी मदद से मौके की तस्वीरें ली जाती हैं, जिनसे क्राइम सीन को कंप्यूटर इमेज के रूप में दोहराया जाता है। घटना के तत्काल इसका प्रयोग होता है।

दावा

इन दोनों सॉफ्टवेयर की मदद से संदिग्धों की ऑनलाइन व सोशल नेटवर्किंग साइट पर होने वाली गतिविधियों और क्राइम सीन की सटीक जानकारी हासिल की जा सकेगी। इन सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करने वाली दिल्ली पुलिस देश की पहली पुलिस होगी।

यह है खासियत

मैनेजमेंट इर्मेंजग ऐंड रियलाइजेशन सॉफ्टवेयर की मदद से गोली चलने या फिर विस्फोट जैसी वारदात होने की स्थिति में दिशा और कोण का पता लगाना आसान हो जाएगा। दरअसल, इस तकनीक की मदद से सभी संभावित कोण से तस्वीरें ली जा सकेंगी, जिनके आधार पर हालात का विश्लेषण करना आसान हो जाएगा।

अभी इन सॉफ्टवेयर का हो रहा इस्तेमाल

-ऑनलाइन छेड़छाड़ को ट्रैक करने के लिए सॉफ्टेवयर
-इलेक्ट्रॉनिक लॉक से छिपाई गई सूचना हासिल करने को सॉफ्टेवयर
-‘हार्ड डिस्क इर्मेंजग सिस्टम’ से ईमेज टू कॉपी करने वाले सॉफ्टवेयर
-छुपाए गए आईपी एड्रेस  का पता लगाने के लिए सॉफ्टवेयर


Share the news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here