आईपीएल : बेंगलुरु-मुंबई का मैच आज, वानखेड़े पर 7 साल से नहीं जीती विराट की टीम

0
128
www.upnewz.in
  • बेंगलुरु ने मुंबई को उसके होमग्राउंड पर पिछली बार 2012 में हराया था
  • इस मुकाबले का प्रसारण रात 8:00 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर होगा

आईपीएल के 31वें मैच में वानखेड़े स्टेडियम पर आज  मेजबान मुंबई इंडियंस का मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु से होगा। विराट कोहली की टीम इस मैदान पर लगातार 6 मैच हार चुकी है। ऐसे में इस मैच उसकी कोशिश हार के क्रम को तोड़ने की होगी। इस मैदान पर उसे पिछली जीत 2012 में मिली थी। वानखेड़े पर दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 8 मुकाबले हुए हैं। इनमें मुंबई को 7 में जीत मिली। वहीं, बेंगलुरु सिर्फ एक ही जीत पाई है।

मुंबई ने बेंगलुरु के खिलाफ 26 में से 17 मैच जीते

आईपीएल में दोनों टीमें अब तक 26 बार आमने-सामने हुई हैं। इनमें मुंबई की टीम 17 और बेंगलुरु नौ में जीत हासिल कर पाई है। इस सीजन में 28 मार्च को बेंगलुरु के होमग्राउंड एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम पर मुंबई ने जीत हासिल की थी।

इस सीजन में बेंगलुरु अब तक 7 में से एक मैच ही जीत पाई है। वह अंक तालिका में 8वें नंबर पर है। उसे सीजन की पहली जीत पिछले मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मिली थी। टीम अपने जीत क्रम को आगे बढ़ाना चाहेगी।

मुंबई ने 7 मैच में 4 जीते हैं। उसे तीन में हार का सामना करना पड़ा। वह अंक तालिका में 8 अंक के साथ तीसरे नंबर पर है। उसे पिछले मैच में होमग्राउंड पर ही राजस्थान के खिलाफ हार मिली थी।

पंजाब के खिलाफ जीत के बाद विराट ने कहा था कि टीम की उम्मीदें अभी बरकरार हैं। उन्हें प्लेऑफ की रेस से अभी बाहर नहीं समझा जाना चाहिए। रोहित ने राजस्थान से हार के बाद कहा था कि टीम जीत की पटरी पर अगले मैच में लौट आएगी।

बेंगलुरु के लिए इस टूर्नामेंट में कप्तान कोहली ने सर्वाधिक 270 रन बनाए हैं। एबी डिविलियर्स ने 232 रन का योगदान दिया है। इन दोनों के अलावा पार्थिव पटेल ने 191 रन बनाए हैं। कोहली अन्य बल्लेबाजों मार्क्स स्टोइनिस और मोइन अली से भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे होंगे।

गेंदबाजों में युजवेंद्र चहल का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। उन्होंने 7 मुकाबलों में 11 विकेट लिए। उनके अलावा बेंगलुरु का कोई भी गेंदबाज टॉप-15 में भी नहीं है। मोहम्मद सिराज 6 विकेट के साथ 19वें स्थान पर हैं। विराट की मुख्य परेशानी उनका गेंदबाजी विभाग ही है।

मुंबई की बात करें तो दोनों विभागों में निरंतरता की कमी है। रोहित शर्मा और क्विंटन डीकॉक ने पिछले मैच में टीम को बेहतर शुरुआत दी। दोनों ने 96 रन की साझेदारी की, लेकिन बाकी के खिलाड़ी अगले 9 ओवर में सिर्फ 80 रन ही बना पाए। इनमें हार्दिक पंड्या के ही 11 गेंद पर 28 रन थे।

गेंदबाजी में टीम का एक गेंदबाज ही टॉप-10 में है। जसप्रीत बुमराह 7 मैच में 8 विकेट के साथ 8वें स्थान पर हैं। उनके अलावा अलजारी जोसेफ ही टॉप-20 में हैं। उनके नाम 6 विकेट हैं। ये सारे विकेट उन्होंने एक ही मैच में लिए थे। उसके बाद अगले दो मुकाबलों में बिना किसी सफलता के 5 ओवर में 75 रन दिए।

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of